रिया चक्रवर्ती ने क्यों किया सुशांत राजपूत की बहन के खिलाफ पुलिस केस?

रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty). सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) केस की मुख्य संदिग्ध हैं. उन्होंने कल सुशांत सिंह राजपूत की बहन प्रियंका सिंह के खिलाफ मुंबई में FIR दर्ज करवाया है. FIR खुदकुशी के लिए उकसाने वाली धरा भी दर्ज कराई गई है.

बांद्रा पुलिस में दर्ज इस FIR में आईपीसी की धारा 420, 464, 465, 466, 468, 474, 306, 120B /34 शामिल है. इसके आलावा प्रियंका सिंह पर NDPS की धाराएं  8(1),21,22 ,29 भी लगाई गई हैं.

रिया चक्रवर्ती ने सोमवार की रात बांद्रा पुलिस स्टेशन में प्रियंका सिंह, मीतू सिंह और राम मनोहर लोहिया अस्पताल के एक डॉक्टर डॉक्टर तरुण कुमार के खिलाफ केस दर्ज कराया था. रिया का आरोप है कि सुशांत सिंह राजपूत के लिए फर्जी प्रिस्क्रिप्शन लिखवाए गए थे. इसमें उनका यह भी आरोप है कि प्रिस्क्रिप्शन में सुशांत सुशांत सिंह राजपूत को एंग्जाइटी कि दवाइयाँ लिखी गई, जिसे वॉट्सऐप के जरिए प्रिस्क्राइब करना क़ानूनी रूप से गलत है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार मुंबई पुलिस ने आगे की जांच के लिए यह केस सीबीआई को सौंप दी है जो पूरे मामले की जांच कर रही है.  सुप्रीम कोर्ट का आदेश है कि सुशांत सिंह राजपूत संदिग्ध मौत केस में जो कुछ भी सामने आता है उसकी जाँच सीबीआई करेगी.

उधर सुशांत सिंह राजपूत परिवार के वकील का कहना है कि यदि मुंबई पुलिस रिया चक्रवर्ती की शिकायत पर सुशांत के बहनों के ख़िलाफ़ FIR दर्ज करती है तो वो सुप्रीम कोर्ट की अवमानना होगी.

क्या है मामला?

NCB. जो रिया चक्रवर्ती से पूछताछ कर रहा है. कल सोमवार ड्रग्स के मामले में उनसे 8 घंटे पूछताछ चली, उसके बाद रात को रिया चक्रवर्ती ने बांद्रा पुलिस थाने पहुँच सुशांत की बहन प्रियंका सिंह, मीतू सिंह और डॉक्टर तरुण कुमार के खिलाफ FIR करवाया. उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली के मनोहर लोहिया के डॉक्टर तरुण कुमार से मिलकर सुशांत सिंह राजपूत की बहन प्रियंका सिंह ने एक्टर के लिए फर्जी प्रिस्क्रिप्शन लिया. मानसिक बीमारी से जूझ रहे सुशांत को बिना देखे और बात किये डॉक्टर ने प्रिस्क्रिप्शन लिख दिया. रिया का कहना है कि जो हुआ वो टेलीमेडिसिन कानून 2020 के विपरीत है.

रिया चक्रवर्ती ने यह भी आरोप लगाया है कि 8 जून को दवाई लिखी गई थी और 14 जून को उनके पार्टनर सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी कर लेते हैं इसलिए वो बहन प्रियंका सिंह, मीतू सिंह और राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉक्टर तरुण कुमार को उनके खुदकुशी के लिए जिम्मेदार मानती हैं.

Pallavi Agarwal

Recent Posts

लॉकडाउन में देह व्यापार मजबूर राजस्थान का घुमंतू समुदाय !

आज़ादी के बाद से लेकर अब तक 6 आयोग बने हैं. इनका काम घुमन्तू समुदायों…

3 weeks ago

महात्मा गांधी केंद्रीय विवि के मीडिया अध्ययन विभाग में भरतमुनि संचार शोध केंद्र का हुआ उद्घाटन

अभा संत समिति के महामंत्री पूज्य स्वामी जीतेंद्रानंद सरस्वती जी ने अपने आशीर्वचन में शोध…

3 weeks ago

डॉ साकेत बने भरत मुनि शोध केंद्र के सह समन्वयक

मोतिहारी। महात्मा गांधी केन्द्रीय विश्वविद्यालय के नव गठित आचार्य भरत मुनि संचार शोध केंद्र में…

3 weeks ago

कैसे करें आईटीआर फॉर्म-1 फाइल?

इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) फाइल करने का मतलब सरकार को अपनी आमदनी की जानकारी देना…

2 months ago

अगर आपकी इनकम टैक्सेबल नहीं है तो क्या आपको भरना चाहिए ITR? क्या हैं इसके फायदे?

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में बस एक दिन का समय बचा है, ऐसे में…

2 months ago

केंद्र ने राज्यों से नए साल पर कोरोना वायरस को लेकर पाबंदियों पर विचार करने के लिए कहा

कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन के डर को देखते हुए केंद्र सरकार ने नए साल के…

2 months ago

This website uses cookies.